Wednesday, July 17, 2024

Creating liberating content

MS Dhoni Car Collection: देख कर आपके...

भारत में, चाहे वो सेलिब्रिटी हो, क्रिकेटर हो या बिजनेसमैन, इन सभी क्षेत्रों...

जानिए आखिर क्यों मोदी से चिढ़ते है...

हरियाणा में जन्मे dhruv rathee ने जर्मनी के कार्सलरुए इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से...

Bihar Vidhan Parishad Result 2023 Out: बिहार...

2023 में बिहार विधान परिषद प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम घोषित, यहां देखें। उन...

Chandigarh JBT Teacher Vacancy Recruitment 2024: चंडीगढ़...

Chandigarh JBT teacher vacancy Recruitment 2024: चंडीगढ़ के शिक्षा विभाग ने 2024 में...
HomeVacanciesShikshak Bharti 2023 Latest...

Shikshak Bharti 2023 Latest News खुशखबरी! प्राथमिक शिक्षकों के 6000 पदों पर अब मिलेगी बीटीसी और शिक्षा मित्रों को नौकरी -12460

- Advertisement -

Shikshak Bharti 2023: उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग में 12460 Shikshak Bharti 2023 के संबंध में नवीनतम समाचार। बीटीसी और शिक्षामित्र दोनों लंबे समय से इसका इंतजार कर रहे हैं। पिछले 7 सालों से चल रही न्यायिक प्रक्रिया के बाद, 12460 शिक्षक भर्ती पर अब आदेश रिजर्व हो गया है।

Table of Contents

सुनवाई के बाद सभी पक्षों से रिटर्न सबमिशन करने का आदेश जारी किया गया है। उच्च न्यायालय ने सभी पक्षों को अपना-अपना रिटन सबमिशन 5 दिन के अंदर दाखिल करने का निर्देश दिया है। इसके बाद, जल्दी ही 12460 शिक्षक भर्ती का आदेश उच्च न्यायालय द्वारा जारी किया जा सकता है, जिसके बाद इस पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू होगी।

12460 शिक्षक भर्ती के मामले में न्यायालय में पिछले 7 सालों से चल रही सुनवाई में जानकारी दी गई है। यह भर्ती प्रक्रिया सपा सरकार के दौरान आयोजित की गई थी और इसमें जिला वरीयता और जीरो जनपद के संबंध में मुद्दा उठाया गया था। संबंधित मामले को लेकर न्यायिक प्रक्रिया ने सशक्त किया है और सुनवाई तथा निर्णय की प्रतिदिनी चरणों में जारी हो रही है।

Table of Contents

12460 Shikshak Bharti 2023 Latest Newsक्या है इस भर्ती में समस्या

12460 शिक्षक भर्ती प्रक्रिया ने प्राथमिक स्कूलों में एक नई घटना की शुरुआत की थी, जो 15 दिसंबर 2016 को आरंभ हुई। इस भर्ती प्रक्रिया के तहत, प्रदेश के 75 जिलों में से 24 जिले ऐसे थे जहां किसी भी पद पर रिक्ति नहीं थी। इन 24 जिलों के आवेदकों को यह अनुमति दी गई थी कि वे किसी भी अन्य जनपद में भी आवेदन कर सकते थे।

- Advertisement -

हालांकि, उन 51 जिलों में जहां रिक्त पद थे, वहां से बीटीसी धारक अभ्यर्थियों ने कोर्ट में एक मामला दाखिल किया था। उन्होंने कहा कि उन्हें भर्ती में जिला वरीयता, यानी प्राथमिकता मिलनी चाहिए। इसके बावजूद कि 24 जनपदों के अभ्यर्थियों की मेरिट हमसे अधिक थी, भीतर की कोई समस्या नहीं थी, क्योंकि भर्ती जिला स्तरीय मेरिट के आधार पर हो रही थी। तब से इस समस्या का समाधान करना मुश्किल रहा है।

Joining Letter: 12460 Shikshak Bhartiअब तक 6512 अभ्यर्थियों को मिल चुका है

नई सरकार ने समीक्षा के नाम पर 23 मार्च 2017 को 12460 शिक्षक भर्ती पर रोक लगा दी थी, जो पहले 16 मार्च 2017 को हुई काउंसलिंग के बाद की गई थी। सरकार के बदलने के बाद, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 16 अप्रैल 2018 को भर्ती शुरू करने की दोबारा से अनुमति प्रदान की थी और इसके बाद 23 अप्रैल 2018 को फिर से सभी चयनित अभ्यर्थियों की काउंसलिंग कराई गई थी।

हालांकि, 18 अप्रैल 2018 को हाईकोर्ट ने 240 जनपद के चयनित अभ्यार्थियों को नियुक्ति पत्र देने पर पूरी तरह स्टे लगा दिया था। इसके बाद, 1 मई 2018 को मुख्यमंत्री ने मेरिट में सबसे ऊपर रहने वाले 6512 अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र दे दिया, जिससे बचे हुए 5948 पद अब तक रिक्त पड़े हैं। इन रिक्त पदों को लेकर न्यायालय में चर्चा जारी है।

UP shikshak bharti latest news शिक्षक भर्ती का विवाद 4 साल से चल रहा है

इस भर्ती के संबंध में हाल के चार वर्षों से चल रहे विवाद ने एक नई चरम पर पहुँच लिया है। अभ्यर्थियों  (samvida shikshak bharti 2023) ने इसे सरकार की ओर से न केवल अनुचित पैरवी का आरोप लगाया है, बल्कि उन्होंने यह भी दावा किया है कि उनकी शिकायतों पर अब तक कोई प्रभावी कदम नहीं उठाया गया है। 

इसके परिणामस्वरूप, इस भर्ती का कोई निर्णय अब तक नहीं आया है और यह फिर भी अंगूठा घुमा हुआ है। इस मामले में कई बारिकियां खुदरा हो चुकी हैं, लेकिन इसका अंतिम फैसला अब तक बाकी है।

जल्द ही मिलेगी 5948 पदों पर बीटीसी और शिक्षामित्रों को नौकरी

उत्तर प्रदेश के 12460 शिक्षक भर्ती में, टेट पास छात्रों के साथ ही शिक्षामित्रों ने भी किया था आवेदन। इन शिक्षामित्रों ने जिला वरीयता के मुद्दे पर याचिका दायर की है। उनमें से कई ने न्यायालय से जिला वरीयता के पक्ष में आदेश (12460 shikshak bharti list) का इंतजार कर रहे हैं। अगर न्यायालय जिला वरीयता की समर्थन करता है, तो इन शिक्षामित्रों को सहायक अध्यापक के पद पर नौकरी मिल सकती है।

- Advertisement -

जिला वरीयता पक्ष में अभी  निर्णय आने की उम्मीद

शिक्षक भर्ती मामले के 12460 शिक्षकों के मामले की सुनवाई में, जिला वरीयता की पक्ष से निर्णय आने की पूरी संभावना है। इसके पहले ही, सिंगल बेंच ने 12460 शिक्षकों की भर्ती में जिला वरीयता का आदेश पारित किया है। यदि 12460 शिक्षक भर्ती में जिला वरीयता के पक्ष में निर्णय होता है, तो तेजी से 6000 बीटीसी और शिक्षामित्र को बड़ा तोहफा मिलेगा।

क्या फिर से आयोजित होगी शिक्षक भर्ती काउंसलिंग

उत्तर प्रदेश, [दिन/महीना, साल]: शिक्षकों की 12460 पदों की भर्ती में एक नई मोड़ (12460 शिक्षक भर्ती लेटेस्ट न्यूज़ 2023)  आ सकता है। सूत्रों के मुताबिक, इस भर्ती के चयन प्रक्रिया को लेकर फिर से काउंसलिंग की जा सकती है। 

हालांकि, दोबारा काउंसलिंग की होने पर चयनित अभ्यर्थियों पर कोई अधिक प्रभाव नहीं पड़ेगा, क्योंकि उनका चयन पहले ही मेरिट में ऊपर हो चुका है। इस संदर्भ में एक अधिकारी ने बताया, “ऐसे अभ्यर्थियों की जो पहले से ही अन्य नौकरियों में चयनित हो चुके हैं, के लिए भी काउंसलिंग से फर्जी की छटनी हो सकती है।”

इसके पहले, उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग ने 68500 और 69000 शिक्षकों की भर्ती की है, जिसमें 12460 अभ्यर्थियों को चयन किया गया है।

FAQ

प्रश्न: 6,470 सहायक शिक्षक पदों की तैनाती कब होगी?

उत्तर: 6,470 सहायक शिक्षक पदों की तैनाती 30 दिसंबर 2023 को होगी।

प्रश्न: 6,470 सहायक शिक्षक पदों में किसे नियुक्ति मिलेगी?

उत्तर: 6,470 सहायक शिक्षक पदों की नियुक्ति में 12,460 पदों को छोड़कर बचे हुए 6,470 पदों के लिए नियुक्ति जारी की जाएगी।

प्रश्न: 6,470 सहायक शिक्षक पदों की भर्ती किस जिलों में होगी?

उत्तर: 6,470 सहायक शिक्षक पदों की भर्ती 24 जिलों में की जाएगी।

- Advertisement -
Railway Group D vacancy 2024Click Here
UP Safai Karmi Bharti 2024Click Here
UPTET Notification 2023 में बड़ा बदलाव!Click Here
IDBI बैंक में graduateClick Here
Join Hindi Exjone Telegram ChannelTelegram
Join Hindi Exjone WhatsApp ChannelWhatsApp

GET IN TOUCH

Join Our Telegram

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- A word from our sponsors -

Most Popular

More from Author

- A word from our sponsors -